Tag : Jaun Elia

Corona, shayari, urdu, poetry

कोरोना के बाद की दुनिया: शायर की नज़र से

इक्कीसवीं सदी की तीसरी दहाई शुरू हुआ चाहती है। मौसमे-सर्द रवाना होते-होते वापसी कर रहा है और मौसमे-गर्म की आमद-आमद है। मगर दो मौसमों के मिलन की इस साअत में भी दिल बुझे हुए हैं। दो-चार लोगों के दिल नहीं, दो-चार शहरों या मुल्कों के दिल नहीं बल्कि सारी दुनिया के दिल बुझे हुए हैं।… continue reading

top 5 content rekhta

Readers’ Choice on Rekhta in 2018!

The year 2018 saw the Rekhta family grow by huge numbers. Millions of people joined in to read and relish Urdu poetry and literature. We have compiled a list of the most searched content on the Rekhta website.

Twitter Feeds

Facebook Feeds